लस्सी (छाछ) के फायदे घरेलू उपाय बनाने की विधि

सच कहूँ तो गर्मी में लस्सी (छाछ) पीकर मजा ही आ जाता हैं, जब लस्सी की पहली घूँट अंदर जाती हैं, तो बस स्वाद आ जाता हैं आपको भी आता होगा लेकिन क्या आपको लस्सी (छाछ) के फायदे पता हैं? क्या कहा नही पता गर्मी में लस्सी तो तुम घटक-घटक करके पी जाते हों लेकिन जो चीज तुम पीते उसके फायदे तुम्हें पता ही नहीं । हर चीज से स्वाद और मजा ही ज्ञान भी लेना चाहिए.

1. लस्सी पीने से हमारे शरीर में लगभग 30,000 बैक्टेरि‍या बनते हैं, जो पाचन में मदद करते हैं.

2. गर्मियों में लस्सी पीने से हमारे शरीर की गर्मी दूर होती हैं, इसीलिए ठंडी-ठंडी लस्सी का सेवन जरूर करें, क्योंकि गर्मियों में Heat Stroke (लू) से बचने के लिए लस्सी जरूरी हैं.

3. लस्सी में Latic Acid की अच्छी मात्रा होती हैं, जो रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाती हैं.

4. लस्सी में भुना जीरा, काली मिर्च का पाऊडर, काला नमक डालकर पीने से पाचन शक्ति बढ़ती हैं, और पेट में सूजन और जलन भी नहीं होती हैं.

5. लस्सी में अजवाइन डालकर पीने से कब्ज नहीं होती हैं, और अगर आप थोड़ा पुदीना भी शामिल कर लेंगे तो और भी अच्छा होगा.

6. लस्सी पीने से बदहजमी जैसी छोटी-मोटी बीमारियाँ तो चुटकियों में गायब हो जाती हैं.

7. लस्सी कैल्शियम का एक अच्छा स्त्रोत हैं, इसीलिए लस्सी पीने से दांत और हड्डियाँ मजबूत होते हैं.

8. लस्सी ब्लड प्रेशर में भी बहुत फायदेमंद होती हैं, अगर किसी को लो ब्लड प्रेशर की प्राॅब्लम हैं, तो नमकीन लस्सी जरूर पीएँ.

9. अगर आप डाइटिंग पर हैं, तो हर-रोज 1 गिलास लस्सी अपनी डाईट में जरूर शामिल करें. और साथ ही शरीर में पूरा दिन उर्जा बनी रहती हैं

10. हर-रोज खाना खाने के बाद लस्सी पीने से आँखें स्वस्थ रहती हैं.

11. खाना खाने के बाद हर-रोज लस्सी पीने से वीर्य वृद्धि होती हैं.

लस्सी (छाछ) से घरेलू उपचार

1. लस्सी में 1 चम्मच पिसा जीरा और थोड़ा सेंधा नमक मिलाकर पीने से बवासीर (Piles) में आराम मिलता हैं.

2. खट्टी लस्सी पीने से भांग का नशा उतर जाता हैं, एक बार ट्राई जरूर करना.😆

3. 10 ग्राम अजवायन और 10 ग्राम गुड़  मिलाकर लस्सी के साथ लेने से पित्ती ठीक होती हैं.

4. पीलिया रोगियों के लिए लस्सी में शहद मिलाकर पीना फायदेमंद साबित होता हैं.

Share This information --> इस जानकारी को अपने दोस्तों में यहाँ से शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *